पेट से जुड़ी समस्या को दूर करने के लिए करें ये योगासन।

0

ये 6 योगासन पेट से जुड़ी सभी समस्या को दुर कर देंगी। 

पाचनतंत्र का सुचारु रूपसे काम करना स्वास्थ्य बनाये रखने के लिए बेहत आवश्यक है।  पाचन ठीक होने पर ही पुरे शरीर की गतविधियों को जरूरी ऊर्जा मिल पाती है।  आज के भगदौड़ भरे जीवन में असमय खाना, खाने की गलत आदतें, बढ़ता तनाव इनके कारण पाचन संबंधी समस्याएं बढ़ रही है।  ऐसे में इन सबसे निजात पाकर पाचनतंत्र को मजबूत करने के लिए योगासन का नियमित अभ्यास करना चाहिये। 

1.वज्रासन

वज्रासन से जुड़ी सभी समस्या को दुर कर देंगी।

वज्रासन एक आसन योग आसन है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। अन्य आसनों के विपरीत, इसे भोजन के बाद किया जा सकता है। भोजन के तुरंत बाद कम से कम 14-20 मिनट वज्रासन का अभ्यास करने से शरीर के मध्य भाग पर सबसे अधिक दबाव पड़ता है। इस दौरान पेट और आंतों पर हल्का दबाव पड़ता है, जिससे कब्ज की दिक्कत दूर होती है और पाचन ठीक रहता है।

2.नौकासन

पेट से जुड़ी समस्या को दूर करने के लिए करें नौकासन
नौकासन, संस्कृत शब्दों 'नौका' और 'आसन' से बना है जिसका अर्थ है 'नाव मुद्रा'। इस आसन में, शरीर एक नाव का आकार लेता है। नौकासन, पेट के आसपास जमा अतिरिक्त फैट को कम करने और बाहों, जांघों और कंधे की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है।अग्न्याशय, यकृत और गुर्दे जैसे पेट के महत्वपूर्ण अवयवों को उत्तेजित कर नौकासन पाचन, अवशोषण और निष्कासन की प्रक्रिया को बढ़ाता है।

3.धनुरासन

धनुरासन

चूँकि, इस आसन में शरीर की आकृति खिंचे हुए धनुष के समान दिखाई देती है, इसे धनुरासन कहते है। इससे सभी आंतरिक अंगों का व्यायाम होता है। पाचन शक्ति बढ़ती है, पेट संबंधी रोगों में और कमर दर्द में भी यह लाभकारी है।

4.पश्चिमोत्तानासन

पश्चिमोत्तानासन

इसका नियमित अभ्यास पेट और नितम्ब की अतिरिक्त चर्बी हटाता है और पाचन से जुडी कई बीमारियों से फायदेमंद होता है। पश्चिमोत्तानासन, पेट के आसपास के हिस्सों जैसे किडनी, लिवर, पैंक्रियाज आदि को सुचारू करता है। जिससे पाचन क्रिया सुधरती है. इससे कब्ज की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

5.सर्वांगासन

सर्वांगासन

अपने नाम के अनुसार ही यह सर्व अंगों के लिए फायदेमंद है। इस आसान को करने से शरीर के सम्पूर्ण अंगों का व्यायाम होता है। यह आसन पाचन क्रिया को ठीक करता है तथा शरीर में रक्त की वृद्धि भी करता है।

6.पवनमुक्तासन

पवनमुक्तासन


गैस, कब्ज जैसी पाचनतंत्र की आम समस्याओं के निराकरण के लिए उपयुक्त है पवनमुक्तासन। इसके अभ्यास से अपचन, कब्ज आदि के कारण संचित गैस से छुटकारा मिलता है साथ ही में पचन क्रिया में सुधार होकर इन शिकायतों से लंबे समय तक आराम मिलता है।



एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !